नक़्शे पर इम्पेरिया ऑनलाइन की विशाल भुमियाँ प्रदर्शित हैँ। इस भुमियोँ पर सब वस्तुएँ स्थित हैँ (भूखंड जिस पर सम्राट अपनी रियासतोँ की स्थापना और उन का विकास कर सकता है)। सार्वभौमिक नक़्शे की माप बिंदु है।

विशेष जोन

सार्वभौमिक नक़्शे पर 36 बिंदुओँ का बरक़रार स्थान, जो सिर्फ अपने मालिक के लिए दृश्य है। विशेष जोन के केंद्र में सम्राज्य की राजधानी स्थित है। वह 4 खाली भूखंड से घिरी है, जो शांत प्रकार से राज्य में मिला लिये जा सकते हैँ। वहाँ भी 4 स्वतंत्र नगर स्थित हैँ, जो लूटे जा सकते हैँ, राज्य में मिला लिये जा सकते हैँ और सामंत हो जा सकते हैँ। विशेष जोन और उसकी सिमाएँ अन्य खिलाड़ी के लिए दृश्य हैँ। हालाँकि अन्य खिलाड़ी के लिए स्वतंत्र नगर गुप्त हैँ - सिर्फ राज्य में मिला लिये गये प्रदेश और सामंत दृश्य हैँ।

नोट: विशेष जोन अपने मालिक के लिए विशेष रहता है, जब तक वह सक्रिय है। अगर यह प्रयोक्ता अपने खाता में 5 दिनोँ से ज़्यादा लॉगिन नहीँ किया है और उसके पास सिर्फ़ एक प्रदेश जै (राजधानी), तो विशेष जोन या उसके भाग अन्य के लिए मौजूद हो जाते हैँ और वे अधिकृत हो सकते हैँ।

राजधानी

सम्राज्य का पहला प्रदेश। विशेष जॉन के केंद्र में 4 बिंदुओँ पर स्थित है। उसका भूखंड उदासीन है और वह ये आर्थिक और सैनिक बोनस देता है:

  • फार्मोँ की बिसात को 100 000
  • सब संसाधनोँ की आमदनी को 10%
  • +20 अंक प्रतिदिन का सुख
  • +20 सुख की हद पर बोनस
  • दुर्ग के जीवंत अंक पर 30% बोनस
  • 20% रक्षक सेना के जीवंत अंकों पर बोनस
  • रक्षा में पुरुषार्थ के 10 अंकोँ का बोनस

स्वतंत्र नगर

विशेष जोन में विभिन्न प्रकार के 4 स्वतंत्र नगर स्थित हैँ (पहली विधि का एक, दूसरी विधि के दो और तीसरी विधि का एक) जो राज्य में मिला लिये, सामंत किये या लूटे किये जा सकते हैँ।

  • पहली विधि: राजधानी से दक्षिण-पश्चिम में है और उस से मुश्तरका सीमा है। मैदानी सेना में 20 हलके धनुर्धर और 20 हलके तलवरिये हैँ। गैरिज़न में कोई सेना नहीँ है।
  • दूसरी विधि: विशेष जोन मेँ उनकी स्थिति और उनकी मैदानी और गैरिज़न में स्थित सेना बेतरतीब ढंग से उत्पन्न की जाती हैं।
  • तीसरी विधि: विशेष जोन मेँ उनकी स्थिति और उनकी मैदानी और गैरिज़न में स्थित सेना बेतरतीब ढंग से उत्पन्न की जाती हैं।

एक स्वतंत्र नगर विशेष जोन का 1 बिंदु लेता है। उसकी स्थितिशील अर्थव्यवस्था, जो आबादी की संख्या और दुर्ग के स्तर के अनुसार संसाधन और सोना का उत्पादन करती है। विशेष जोन के स्वतंत्र नगरोँ के आर्थिक बोनस नहीँ हैँ। एक प्रकार के संसाधन की अधिकतम संख्या दुर्ग की बिसात को चार से भाग बराबर है। स्वतंत्र नगर शांत प्रकार से या सैनिक प्रकार से राज्य में मिला लिया जा सकता है।

स्वतंत्र ख़ाली भूखंड

शांत प्रकार से राज्य में मिला लिया जा सकता है। कोई इमारतेँ, सेना और आबादी नहीँ हैँ। ख़ाली भूखंड के विभिन्न प्रकार के बोनस हैँ। वे चार बिंदु पर स्थित हैँ।

भूखंड की विधियाँ

सार्वभौमिक नक़्शे पर स्थित भूखंड तीन प्रकार के हैँ - स्वतंत्र नगर, ख़ाली भूखंड और विशिष्ट संसाधनों के भूखंड।

स्वतंत्र नगर

उन में से ज़्यादा विशेष जोन के बाहर ख़ाली भूखंड पर स्थित हैँ जहाँ वे लूटे, राज्य में मिला लिये या सामंत किये जा सकते हैँ। स्वतंत्र नगरोँ के 10 स्तर हैँ जिन में से पहले चार विशेष जोन में स्थित हैँ। बढ़ोतरी स्वतंत्र नगरोँ की एक ऐसी विशिष्टता है, जो खिलाड़ी के हर सफल आक्रमण के बाद बढ़ती है। सफल आक्रमणोँ की निश्चित संख्या के बाद स्वतंत्र नगर का स्तर भी बढ़ती है और बढ़ोतरी पुनः बिठायी जाती है। स्तर 1: बढ़ोतरी 0, स्तर 2: बढ़ोतरी 5, स्तर 3: बढ़ोतरी 10 ,स्तर 4: बढ़ोतरी 10, स्तर 5: बढ़ोतरी 10, स्तर 6: बढ़ोतरी 15, स्तर 7: बढ़ोतरी 15 ,स्तर 8: बढ़ोतरी 15, स्तर 9: बढ़ोतरी 20, स्तर 10: बढ़ोतरी 20।

आबादी दुर्ग का स्तर फार्म घर खान छावनी मंदिर केंद्रिय मैदान संसाधनों की बिसात कर रास्ते इकाइयोँ का प्रकार मैदानी सेना नक़्शे पर संख्या
1 10 000 1 1 2 2 1 1 3 30 000 3 1 हलके 40 विशेष जोन
2 15 000 1 1 3 3 1 1 4 30 000 3 2 हलके 100 विशेष जोन
3 20 000 2 1 4 4 1 1 5 40 000 3 3 हलके 300 विशेष जोन
4 30 000 3 1 6 5 1 1 6 60 000 3 4 हलके 500 2 500
5 40 000 4 1 6 6 2 1 7 120 000 3 5 भारी 1 000 1 000
6 50 000 5 3 6 7 2 1 8 150 000 3 6 भारी 2 000 650
7 80 000 6 5 8 11 2 1 9 200 000 3 7 भारी 4 000 400
8 120 000 7 7 9 11 3 1 10 400 000 4 8 भारी 13 000 300
9 160 000 8 9 11 12 3 1 10 600 000 4 9 उच्च वर्ग के 25 000 200
10 250 000 9 12 14 13 4 1 10 1 000 000 4 10 उच्च वर्ग के 50 000 100

ख़ाली भूखंड

वे खिलाड़ी के विशेष जोन के बाहर भी स्थित हैँ, जहाँ वह उस को अधिकृत कर सकता है। हर राज्य में मिला लिया गया या उपनिवेशित भूखंड (उदासीन के बदलाव) सम्राज्य को विभिन्न प्रकार के बोनस और परिवर्तक देता है।

फार्म लकड़ी पत्थर लोहे दुर्ग अश्वारोही सेना (सैन्य इकाई की एक विधि) हलका धनुर्धर रक्षा
उदासीन - - - - - - - -
उर्वर 20% -10% -10% -10% -20% 20%
वन्य 10% 10% -10% -10% -20% -10% -20% 10%
ऊबड़-खबाड़ 10% 10% 10%
ऊबड़-खबाड़-वन्य -5% 15% 10% -10% -10% 15%
पहाड़ी -20% 20% 20% 20% -20% 20% 20%
पहाड़ी - वन्य -25% 25% 20% 20% 20% -30% 25%
उर्वर वन्य ऊबड़-खबाड़ ऊबड़-खबाड़-वन्य पहाड़ी पहाड़ी - वन्य
व्यापारिक अंतःशक्ति पर 10% से 20% तक लकड़ी की आमदनी पर 10% से 20% तक लकड़ी की आमदनी पर 5% से 10% तक लकड़ी की आमदनी पर 10% से 20% तक लोहे की आमदनी पर 5% से 10% तक लकड़ी की आमदनी पर 5% से 10% तक
धनुर्धरों के प्रशिक्षण की दूरी पर 10% से 20% तक व्यापारिक अंतःशक्ति पर 10% से 20% तक लोहे की आमदनी पर 5% से 10% तक व्यापारिक अंतःशक्ति पर 10% से 20% तक पत्थर की आमदनी पर 5% से 10% तक लोहे की आमदनी पर 5% से 10% तक
पैदल सेना के प्रशिक्षण की दूरी पर 10% से 20% तक पैदल सेना के प्रशिक्षण की दूरी पर 10% से 20% तक पत्थर की आमदनी पर 5% से 10% तक पैदल सेना के प्रशिक्षण की दूरी पर 10% से 20% तक धनुर्धरों के प्रशिक्षण की दूरी पर 10% से 20% तक पत्थर की आमदनी पर 5% से 10% तक
अश्वारोही सेना के प्रशिक्षण की दूरी पर 10% से 20% तक घेराबंदी यंत्रों की निर्माण की दूरी पर 10% से 20% तक फार्मों पर 5% से 10% तक घेराबंदी यंत्रों की निर्माण की दूरी पर 10% से 20% तक पैदल सेना के प्रशिक्षण की दूरी पर 10% से 20% तक पैदल सेना के प्रशिक्षण की दूरी पर 10% से 20% तक
घेराबंदी यंत्रों की निर्माण की दूरी पर 10% से 20% तक फार्मों पर 5% से 10% तक व्यापारिक अंतःशक्ति पर 10% से 20% तक फार्मों की बिसात पर 10 000 से 40 000 तक। बोनस सदा फार्मों की बिसात पर 10 000 से 40 000 तक। बोनस सदा फार्मों की बिसात पर 10 000 से 40 000 तक। बोनस सदा
फार्मों पर 10% से 20% तक फार्मों की बिसात पर 10 000 से 40 000 तक। बोनस सदा धनुर्धरों के प्रशिक्षण की दूरी पर 10% से 20% तक सुख की सीमा पर 5 से 10 तक सुख की सीमा पर 5 से 10 तक सुख की सीमा पर 5 से 10 तक
फार्मों की बिसात पर 10 000 से 40 000 तक। बोनस सदा सुख की सीमा पर 5 से 10 तक पैदल सेना के प्रशिक्षण की दूरी पर 10% से 20% तक सुख पर 5 से 10 तक प्रतिदिन का बोनस सुख पर 5 से 10 तक प्रतिदिन का बोनस सुख पर 5 से 10 तक प्रतिदिन का बोनस
सुख की सीमा पर 5 से 10 तक सुख पर 5 से 10 तक प्रतिदिन का बोनस अश्वारोही सेना के प्रशिक्षण की दूरी पर 10% से 20% तक - - -
सुख पर 5 से 10 तक प्रतिदिन का बोनस - घेराबंदी यंत्रों की निर्माण की दूरी पर 10% से 20% तक - - -
- - फार्मों की बिसात पर 10 000 से 40 000 तक। बोनस सदा - - -
- - सुख की सीमा पर 5 से 10 तक - - -
- - सुख पर 5 से 10 तक प्रतिदिन का बोनस - - -

मूल्य बेतरतीब ढंग से उत्पन्न किये जाते हैं।

स्वतंत्र रिक्त भूखंड 4 बिंदुओँ तक समाते हैँ। राज्य में मिला लिया नया उपनिवेश विभिन्न प्रकार के बोनस के कई भूखंड पर होने की संभावना है।

विशिष्ट संसाधन

अगर आप इस भूखंड पर प्रदेश, उपनिवेश या व्यापारिक स्थान की स्थापना करेँ तो वह सारे सम्राज्य को बोनस दे। बोनस सिर्फ तब प्राप्त किया जाता है, जब इस भूखंड पर वस्तु का निर्माण समाप्त है। सार्वभौमिक नक़्शे पर वे 1 बिंदु लेते हैँ और विशेष जोन के बाहर स्थित हैँ।

* एक ही विशेष संसाधन से बोनस जमाना असंभव है। अगर एक ही संसाधन से 2 बोनस मौजूद हैँ, तो ज़्यादा बड़ा परिगणित है। दो विधिन्न भूखंड से बराबर बोनस जमाया जाता है।

उदाहरण: अगर आपके पास सोने के मालामाल क्षेत्र पर दो रियासतेँ होँ, तो सोने की आमदनी पर आपके 10% बोनस हो। अगर आपके पास गेहूँ के मालामाल क्षेत्र पर एक उपनिवेश हो और चावल के मालामाल क्षेत्र पर भी एक उपनिवेश हो, तो आप फर्मों के असर पर 20% बोनस प्राप्त करेँ।

** विशिष्ट संसाधन पुराना मंदिर, पवित्र पुराना मंदिर, नाल, वज़नी नाल, सदाबहार, सदाबहार का मालामाल क्षेत्र, कोयला, कोयले का मालामाल क्षेत्र, घोड़े, भारी घोड़े, ऊन, ऊन का मालामाल क्षेत्र, रूई और रूई का मालामाल क्षेत्र संघ की सेना को बोनस देते हैँ, अगर एक संघीय सदस्य उन पर उपनिवेश की स्थापना करे।

नाम असर व्यापारिक अंतःशक्ति
विशिष्ट संसाधन लकड़ी लकड़ी की आमदनी को 5% बोनस 500
लकड़ी का मालामाल क्षेत्र लकड़ी की आमदनी को 10% बोनस 750
विशिष्ट संसाधन लोहा लोहे की आमदनी को 5% बोनस 500
लोहे का मालामाल क्षेत्र लोहे की आमदनी को 10% बोनस 750
विशिष्ट संसाधन पत्थर पत्थर की आमदनी को 5% बोनस 500
पत्थर का मालामाल क्षेत्र पत्थर की आमदनी को 10% बोनस 750
विशिष्ट संसाधन सोना दिवारात्रि के सोने के कर को 5% बोनस 2 000
सोने का मालामाल क्षेत्र दिवारात्रि के सोने के कर को 10% बोनस 3 000
विशिष्ट संसाधन हीरे ख़रीदे गये हीरोँ की संख्या को 5% 1 000
हीरों का मालामाल क्षेत्र ख़रीदे गये हीरोँ की संख्या को 10% 2 000
विशिष्ट संसाधन मदिरा सम्राज्य के सब प्रदेशोँ के सुख को 5 अंकोँ का बोनस 1 000
विशिष्ट संसाधन रत्न सम्राज्य के सब प्रदेशोँ के सुख को 10 अंकोँ का बोनस 1 000
विशिष्ट संसाधन गज-दंत सब रियासतोँ में सुख के अधिकतम स्तर को 5 से बढ़ाता है। 3 000
विशिष्ट संसाधन रेशम सम्राज्य के सब प्रदेशोँ के अधिकतम सुख को 10 से बढ़ाता है। 5 000
विशिष्ट संसाधन पुराना मंदिर सेना के हौसले को 5 अंक 250
विशिष्ट संसाधन पवित्र पुराना मंदिर सेना के हौसले को 10 अंक 500
विशिष्ट संसाधन नाल सारी अश्वारोही सेना के आक्रमण का 5% बोनस 500
विशिष्ट संसाधन वज़नी नाल सारी अश्वारोही सेना के आक्रमण का 10% बोनस 500
विशिष्ट संसाध सदाबहार धनुर्धरोँ के आक्रमण को 5% बोनस 500
सदाबहार का मालामाल क्षेत्र धनुर्धरोँ के आक्रमण को 10% बोनस 500
विशिष्ट संसाधन कोयला पैदल सेना (तलवरिये और बरछैत) के आक्रमण को 5% बोनस 500
कोयले का मालामाल क्षेत्र पैदल सेना (तलवरिये और बरछैत) के आक्रमण को 10% बोनस 500
विशिष्ट संसाधन ग्रेनाइट दुर्ग के जीवंत अंकों को 5% बोनस 500
ग्रेनाइट का मालामाल क्षेत्र दुर्ग के जीवंत अंकों को 10% बोनस 500
विशिष्ट संसाधन भांग निर्माण के दौरान को 5% से घटा देता है 500
भांग का मालामाल क्षेत्र निर्माण के दौरान को 10% से घटा देता है 500
विशिष्ट संसाधन भोजपत्र अध्ययन के दौरान को 5% से घटा देता है 500
विशिष्ट संसाधन चर्म पत्र अध्ययन के दौरान को 10% से घटा देता है 1 000
विशिष्ट संसाधन चावल फार्मोँ के असर पर 5% बोनस 500
चावल का मालामाल क्षेत्र फार्मोँ के असर पर 10% बोनस 750
विशिष्ट संसाधन गेहूँ फार्मोँ के असर पर 5% बोनस 500
गेहूँ का मालामाल क्षेत्र फार्मोँ के असर पर 10% बोनस 750
विशिष्ट संसाधन मसाला बाज़ार में प्रस्ताव प्रकाशित करने की कीमत 10% से घटाता है 5 000
विशिष्ट संसाधन घोड़े मुहिम पर सेना की यात्रा का दौरान 5 % से घटाता है 500
विशिष्ट संसाधन भारी घोड़े मुहिम पर सेना की यात्रा का दौरान 10% से घटाता है 1 000
विशिष्ट संसाधन ऊन सेना की परवरिश 5 % से घटा देता है 500
ऊन का मालामाल क्षेत्र सेना की परवरिश 10% से घटा देता है 1 000
विशिष्ट संसाधन रूई सेना की परवरिश 5% से घटा देता है 500
रूई का मालामाल क्षेत्र सेना की परवरिश 10% से घटा देता है 1 000
विशिष्ट संसाधन मरमर संघीय महल में मंदिर के निर्माण करने का समय 5% से घटा देता है 3 000
मरमर का मालामाल क्षेत्र संघीय महल में मंदिर के निर्माण करने का समय 10% से घटा देता है 5 000
विशिष्ट संसाधन क़हवा व्यापारिक अंतःशक्तिअ को 5% बोनस 1 000
क़हवा का मालामाल क्षेत्र व्यापारिक अंतःशक्तिअ को 10% बोनस 2 000
विशिष्ट संसाधन नक़्शे सम्राज्य से इस दूरी 15% बढ़ाता है जिस पर खिलाड़ी उपनिवेश, व्यापारिक और सैनिक स्थान की स्थापना कर सकता है 500
विशिष्ट संसाधन विस्तारित नक़्शे सम्राज्य से इस दूरी 30% बढ़ाता है जिस पर खिलाड़ी उपनिवेश, व्यापारिक और सैनिक स्थान की स्थापना कर सकता है 1 000
विशिष्ट संसाधन पूराना मलबा मंदिर के संदूक पर 5% बोनस 1 000
विशिष्ट संसाधन चाँदी राज्यपाल के अनुभव के अंकों पर 10% बोनस 2 000
चाँदी का मालामाल क्षेत्र राज्यपाल के अनुभव के अंकों पर 15% बोनस 3 000
विशिष्ट संसाधन भरत सेनापति के अनुभव के अंकों पर 10% बोनस 1 000
भरत का मालामाल क्षेत्र सेनापति के अनुभव के अंकों पर 15% बोनस 2 000
विशिष्ट संसाधन अरक़ अपने सेनापति के जीवित रहने की संभावना को 5% से बढ़ाता है
विरोधी सेनापति को मार डालने की संभावना को 5% से बढ़ाता है
1 000
विशिष्ट संसाधन रसायन अपने सेनापति के जीवित रहने की संभावना को 10% से बढ़ाता है
विरोधी सेनापति को मार डालने की संभावना को 10% से बढ़ाता है
2 000
विशिष्ट संसाधन मिट्टी घरों की बिसात पर 5% बोनस 500
मिट्टी का मालामाल क्षेत्र घरों की बिसात पर 10% बोनस 1 000

बर्बरोँ का निवेश

उदासीन रियासत, जो सार्वभौमिक नक़्शे पर स्थित हैँ और जिसके पास निज की सेना है। उन की जासूसी और मैदानी लड़ाई में उस पर आक्रमण किये जा सकते हैँ, लेकिन उन पर अधिकार नहीँ जमा जा सकता है। सफल मैदानी लड़ाई की स्थिति में जायक खिलाड़ी समुचित पुरस्कार प्राप्त करता है और बर्बरोँ का निवेश सार्वभौमिक नक़्शे से गुम हो जाता है।

  • लोकेशन

    बर्बरोँ के निवेश सार्वभौमिक नक़्शे पर बेतरतीब उदसीन भूखंड पर स्थित हैँ, आम तौर पर विशिष्ठ संसाधन के निकट। देशी जाते के एक स्थान के बावजूद बाकी निवेश खिलाड़ी के विशेष जोन में स्थित नहीँ हो सकते हैँ। उनका उतपन्न दुनिया की रफ्तार के अनुसार निर्धारित अवधि में हो जाता है। सारे सार्वभौमिक नक़्शे पर उनकी संख्या 2000 से ज़्यादा नहीँ हो सकती है। उनका उत्पन्न दुनिया के शुरू से 0.70833333333333 दिन को शुरू हो जाता है। हर पाद में (100x100 अंक) 5 ऐसे निवेश हैँ। जब एक या ज़्यादा निवेश विनष्ट हो जाएँ और नक़्शे से गुम हो जाएँ, तब संस्कारण नये का उत्पन्न करता है, ताकि वे फिर 5 होँ। वे भी सार्वभौमिक नक़्शे पर बेतरतीब प्रकार से स्थित हैँ। नये निवेश पहले के स्थान पर होने की आवश्यकता नहीँ है।

    नोट: दो बर्बरोँ के निवेशोँ की एक मुश्तरका सीमा हो सकती है या वे खिलाड़ी की रियासत के निकट हो सकते हैँ।

  • बर्बरोँ के निवेशोँ की विधियाँ

    इस रियासत की विधि उस में तैनात सेना से निश्चित है। रक्षा में सैन्य इकाकियाँ ( हलकी, भरी और उच्च वर्ग की) और सैन्य अध्ययन रियासत की स्थापना के क्षण में युग के चरण (व्यतीत सप्ताहोँ की संख्या) पर निर्भर हैँ। बर्बरोँ के निवेशोँ के 15 भिन्न स्तर हैँ।

  • जासूसी और आक्रमण

    बर्बरोँ का निवेशोँ की जासूसी और उस पर आक्रमण सार्वभौमिक नक़्शे से या मुख्य स्क्रीन के बायेँ भाग में स्थित बर्बरोँ की जल्द खोज की सूची से हो सकते हैँ। नियंत्रक केंद्र से उसका चुनाव नहीं कर सकते हैँ।

    • जासूसी

      जासूसी रिपोर्ट में सेना और रियासत का नाश करने का पुरस्कार के बारे में सूचना है।

    • आक्रमण

      बर्बरोँ के निवेश के विरूद्ध एक ही संभव आक्रमण मैदानी लड़ाई है। मुहिम का समय सार्वभौमिक नक़्शे पर चलन के सूत्र द्वारा परिगणित है: सेना की रफ़्तार सब से धीरी इकाई की है। क्षणिक आगमन मौजूद नहीँ है। सफल मैदानी लड़ाई की स्थिति में जायक खिलाड़ी समुचित पुरस्कार प्राप्त करता है और बर्बरोँ का निवेश सार्वभौमिक नक़्शे से गुम हो जाता है।

  • पुरस्कार

    बर्बरोँ के निवेश का नाश करके खिलाड़ी पुरस्कार प्राप्त करता है। पुरस्कार का परिमाण आक्रमित निवेश के स्तर पर निर्भर है - जितना ज़्यादा ऊँचा स्तर, इतना ज़्यादा बड़ा पुरस्कार। पुरस्कार आम तौर पर संसाधन हैँ या - दास बेचनेवाली जाति की स्थिति में - उन्मुक्त आबादी|

    NB: बर्बरोँ के निवेश के पुरस्कार जो प्राप्त नहीँ हिए युग के अंत में खो जाते हैँ!

    • आधारभूत

      हर बर्बरोँ का निवेश कोई आधारभूत पुरस्कार देता है। वह ऐसा हो सकता है:

      • दास बेचनेवालोँ के बर्बरोँ के निवेश पर विजय के लिए उन्मुक्त आबादी पुरस्कार है। वह कोशागर में निकालेगी, जहाँ से फ़ौरन या उपरांत ली जा सकती है।
        जब आप उन्मुक्त आबादी प्राप्त करना चाहते होँ, तो वह मौजूद रियासत की आबादी मैँ परिगणित हो जाए।
      • संसाधन - आप चार संसाधन प्राप्त करते हैँ - लकड़ी, लोहा, पत्थर और सोना, जो मुहिम प्राथमिक रियासत में वापस लाती है।

बर्बरोँ के निवेशोँ के आक्रमण

बर्बरोँ का हर निवेश अधिकतम 70 सम्राज्य के मीलोँ की दूरी पर स्थित खिलाड़ी को आक्रमण भेज सकता है। इस संख्या में येस्थानीय निवेश भी शामिल हैँ, जो सिर्फ़ इस खिलाड़ीपर आक्रमण कर सकते हैँ, जिसके विशेष जान में उत्पन्न हैँ। हर बर्बरोँ का निवेश अपने नाश तक आक्रमण भेज सकता है। हालाँकि उसका नाश भेजे गये आक्रमण पर प्रभाव नहीँ डालत है- वे अपने लक्ष्य में पहूँचते हैँ। निवेश स्थान के निश्चित स्तर के लिए संभव लक्ष्य अंकोँ के सिर्फ निश्चित क्षेत्र के खिलाड़ी की रियासतेँ हैँ:

  • खिलाड़ी के अंकोँ के अनुसार बर्बरोँ के निवेश:

    स्तर से (अंक) तक (अंक)
    1 3 425 44 636
    2 8 927 87 956
    3 17 591 161 646
    4 32 329 290 133
    5 58 027 500 778
    6 100 156 859 720
    7 171 944 1 415 851
    8 283 170 2 354 056
    9 470 811 3 904 598
    10 780 920 6 449 250
    11 1 289 850 10 613 265
    12 2 122 653 17 438 218
    13 3 487 644 28 588 628
    14 5 717 726 46 800 738
    15 9 360 148 99 999 999

  • आक्रमण की विधियाँ बर्बरोँ के निवेश की विधी पर निर्भर हैँ, निम्नलिखित रूप से:
    • स्थानीय बर्बरोँ के आक्रमण सदा दुर्ग के घेरे हैँ
    • विजेता के आक्रमण सदा दुर्ग के घेरे हैँ
    • विनाशकोँ के आक्रमण सदा दुर्ग के घेरे और लूट-पाट 50:50 के अनुपात में हैँ
    • दास बेचनेवालोँ के आक्रमण सदा लूट-पाट के रूप में हैँ*

      * अगर इस के पहले वही प्रदेश में लूट-पाट हुई, तो आक्रमण मैदानी लड़ाई होगा।
    • help.globalmap_217
  • बर्बरोँ के आक्रमण का लक्ष्य

    बर्बरोँ के आक्रमण के संभव लक्ष्य खिलाड़ी के सब प्रदेश (राजधानी के समेत) और उपनिवेश हैँ, जिसकी बर्बरोँ की धमका का स्तर निश्चित हद से ज़्यादा है। सैनिक और व्यापारिक स्थान, तथा सामंत बर्बरोँ से आक्रमित नहीँ हो सकते हैँ। आक्रमण की यात्रा का समय बेतरतीब रूप में 55से 60 मिनट तक है और आक्रमण अपने भेजने के क्षण से दृश्य हैँ। आक्रमणकारी बर्बरोँ की सेना की संघटन निवेश में तैनात सेना से निश्चित हो जाती है। घेरे के लिए घेराबंदी यंत्रोँ का निश्चित प्रतिशत भी शामिल हो जाता है। बर्बरोँ का आधारभूत हौसला पूट-पात में 100 अंक है और दुर्ग के घेरे एं 120 अंक है। हर निवेश का आपना सेनापति है इसलिए आक्रमण उसकी नेतृत्वा में होगा। उसकी निपूणताएँ लड़ाई पर प्रभाव डालती हैँ और वे मुहिम के स्क्रान में दृश्य हैँ। स्थानीय बर्बरोँ के पास सेनापति कभी नहीँ है। बर्बरोँ के एकही निवेश से आक्रमण की संख्या असीमित है और यह बर्बरोँ की सेना की विधी और संघटन नहीँ बदलता है। बर्बरोँ के आक्रमण ख़िलाड़ी के प्रिमियम ऐक्स्ट्राएँ बंद बंद करते है।

  • खिलाड़ी की रियासतोँ में बर्बरोँ की धमका की बढ़ोतरी

    एक रियासत आक्रमित होने की संभावना बर्बरोँ की धमका के स्तर से निश्चित है अगर 70 सम्राज्य के मीलोँ के परास में बर्बरोँ का निवेश स्थित है। धमका हर रियासत में अलग-अलग रूप से निश्चित तर्क के अनुसार जमायी जाती है।

    बर्बरोँ की धमका का स्तर 3 विधियोँ से बढ़ाया जाता है:
    • समय के गुज़रने से - हर घंटे पर धमका निश्चित प्रतिशत से बढ़ती है
    • इमारत के निर्माण का शुरू
    • सैन्य मुहिम का चला (प्रयाण के अलावा)
    जब बर्बर खिलाड़ी की किसी रियासत पर आक्रमण करेँ, तो इस में बर्बरोँ की धमका का स्तर पुनः बिठाया जाता है और खिलाड़ी की सब अन्य रियासतोँ में छोटे प्रतिशत से घटायी जाती है।
  • बर्बरोँ के आक्रमण की शक्ति

    बर्बरोँ के आक्रमण की शक्ति आंतिम 24 घंटोँ में खिलाड़ी से आक्रमित बर्बरोँ के निवेशोँ की संख्या से निश्चित है। जितने ज़्यादा आक्रमण, इतनी ज़्यादा बड़ी शक्ति बर्बरोँ के आक्रमण की होगी। अगर खिलाड़ी ने आख़िरी 24 घंटोँ में बर्बरोँ के किसी भी निवेश पर सफल आक्रमण नहीँ किया, तो आक्रमणकारी सेना की संख्या निवेश में आधारभूत संख्या से 50% होगी। हर सफल आक्रमित निवेश के लिए आक्रमण की शिक्ति 10% से बढ़ती है। उदाहरण: खिलाड़ी एक निवेश से आक्रमित है, जिसके पस 1000 हलकी अश्वारोही सैनिक हैँ। अगर खिलाड़ी ने आख़िरी 24 घंटोँ में बर्बरोँ के किसी भी निवेश पर सफल आक्रमण नहीँ किया,तो आक्रमणकारी सेना की संख्या आधारभूत संख्या से 50% या 500 हलकी अश्वारोही सैनिक होगी। आर खिलाड़ी ने 24 घंटोँ में 10 निवेशोँ का नाश किया, तो अक्रमण में आधारभूत संख्या से 150% या 1500 हलकी अश्वारोही सैनिक होंगे।


बर्बरोँ के निवेशोँ के अध्ययन

बर्बरोँ के निवेशोँ के पास सैन्य अध्ययनह हैँ, जो उनको खिलाड़ी के विरूद्ध लड़ाइयोँ में ज़्यादा प्रतिस्पर्द्धी बनाते हैँ। ये अध्ययन आक्रमण में और रक्षा में भी प्रयुक्त हो जाते हैँ।

  • स्तरोँ के अनुसार बर्बरोँ के निवेशोँ के अध्ययन

    स्तर आक्रमण् - धनुर्धर आक्रमण - रण-संकुल कवच सैनिक घोड़े सैन्य चिकित्सा-शास्त्र काउंटर जासूसी
    1 1 1 1 1 1 1
    2 2 2 2 2 3 3
    3 4 4 4 4 5 5
    4 6 6 6 6 7 7
    5 8 8 8 8 9 9
    6 10 10 10 10 11 11
    7 12 12 12 12 13 13
    8 14 14 14 13 15 15
    9 16 16 16 14 17 17
    10 18 18 18 15 19 19
    11 20 20 20 16 21 21
    12 22 22 22 17 23 23
    13 24 24 24 18 25 25
    14 27 27 27 19 27 27
    15 30 30 30 20 29 29

फैलाव

राज्य में मिला लिये गये प्रदेश

राज्य में मिला लिये जाने के लिए प्रदेशोँ की अधिकतम संख्या 30 है (राजधानी + 29 अतिरिक्त)। निश्चित भूखंड राज्य में मिला लेने के लिए (स्वतंत्र नगर, स्वतंत्र ख़ाली भूखंड या विशेष संसाधन का भूखंड) और उसको प्रदेश में बदलने के लिए केंद्रीय सत्ता का एक विकासित स्तर आवश्यक है। राज्य में मिला लेना सार्वभमिक नक़्शे द्वारा शांत प्रकार या सैन्य रकार हो सकता है:

  • स्वतंत्र नगर राज्य में मिला लेँ
    • शांत प्रकार से: रियासत में सब इमारतोँ की कीमत x1,5 देना चाहिए। शांत प्रकार राज्य में मिला लेने की स्थिति में इमारतोँ के सब स्तर अक्षत रहते हैँ।
    • सैन्य प्रकार से - आप को अपनी सेना दुर्ग के घेरे के आक्रमण में भेजना चाहिए। लड़ाई जीतने के बाद भूखंड सम्राज्य का भाग हो जाता है, लेकिन उसकी सब इमारतेँ एक स्तर खोती हैँ। हालाँकि, अगर स्वतंत्र नगर में दुर्ग का 1-ला स्तर या खानोँ का 10-वाँ स्तर हो, तो वे इमारतेँ ये स्तर रखेँगी। स्वतंत्र नगर में सेना सैन्य इकाइयोँ के लिए न्यूनतम आवश्यक स्तरोँ से लड़ती है।

    स्वतंत्र नगर को राज्य मे मिला लेने के बाद, नया प्रदेश 4 अंक समाता है।

  • स्वतंत्र रिक्त भूखंड राज्य में मिला लेना: अधिकतम 25 000 आबादी की मुहिम बसाने के लिए भेजने के बाद यह सिर्फ शांत प्रकार से हो सकता है। राज्य में मिला लेने के बाद रियासत में मौजूद होंगे:
    • नगर का केंद्र
    • पहले स्तर का डेपो
    • पहले स्तर के घर
    • महल
  • विशेष्ठताएँ:
    • संग्रहणीयता

      रज्य में हर अगला मिला गया प्रदेश पहले प्रदेश से 10% कम संसाधन का उत्पादन करता है।

    • सुख

      राज्य में मिले लिये प्रदेशोँ में सुख की आधारभूत हद 100 है। राजधानी में +20 बोनस है।

    • संसाधनोँ का वहन

      डेपो में हो जाता है। एक प्रदेश 2x2 अंको पर फैला है। आपके निज के प्रदेशोँ के बीच वहन 1 अंक के लिए 0.625 मिनट है, यानि दोनोँ निकट प्रदेशोँ के बीच 1.25 मिनत, अन्य प्रदेश से विभक्त दोनोँ प्रदेशोँ के बीच 5 मिनट, दोनोँ अन्य प्रदेशोँ से विभक्त दोनोँ प्रदेशोँ के बीच 7.5 मिनट, इत्यादि।

    • सम्राज्य के रास्ते

      संचार व्यवस्था, जो राज्य में मिला लिये गये प्रदेशोँ के बीच निर्मित हो जाती है। इस संचार व्यवस्था का हर स्तर प्रदेशोँ के बीच व्यापारिक अंतःशक्ति से आमदनी 10% से बढ़ाती है।

    • सेना की यात्रा

      प्रदेशोँ के बीच सेना का चलन संसाधनोँ के वहन की यंत्रिकी के अनुसार जो जाता है। प्रदेश या उपनिवेश तक विरोधी सेना की यत्रा सदा एकही है। यह आक्रमणकारी के राजधानी से रक्षक के राजधानी तक समय के बराबर है।

    • राज्यपाल की निपुणताएँ

      अधिकृत मुक्त भूखंड या स्वतंत्र नगर के लक्षणात्मक बोनस के अतिरिक्त, राज्य में मिला लेने और उपनिवेश करने की स्थिति में दो विशिष्ट बोनस भी दिये जाते हैँ - राज्यपाल की दो भिन्न निपूणताओँ की बढ़ोतरी। निपूणताओँ का चुनाव बेतरतीबे है, लेकिन सिस्टम प्रयोक्ता की मौजूद निपूणताओँ में से चुनाव करेगा। अगर प्रयोक्ता के पास कोई राज्यपाल की निपूणताएँ नहीँ, तो सिस्टम बेतरतीब रूप से सब निपूणताओँ में से दोनोँ का चुनाव करेगा, ताकि उन पर प्रयोक्ता बोनस पाने लगाए। राज्य में मिला गया प्रदेश सिर्फ तब राज्यपाल के बोनसोँ का प्रयोग कर सकता है, जब उस में राज्यपाल नियुक्त है, जिस के पास ये निपूणताएँ मौजूद हैँ। अगर प्रदेश में कोई राज्यपाल नियुक्त नहीँ हो या राज्यपल के पास अन्य निपूणताएँ मौजूद होँ, तो प्रदेश बोनसोँ से प्रभावित नहीँ होगा। वे तब तक उदासीन रहें, जब तक निश्चित आवश्यकताएँ पूरी हैँ। मुख्य लक्ष्य है कि इस पद पर इस महा आदमी की नियुक्ति करना, जिस के पास दोनोँ निपूणताएँ नियुक्त होँ, ताकि दोनोँ बोनस असर डालेँ।

सामंत

सार्वभौमिक नक़्शे का 1 बिंदु लेता है। एक खिलाड़ी अधिकतम 30 प्रदेश को सामंत कर सकता है। किसी भूखंड को सामंत करने के लिए केंद्रीय सत्ता के एक स्तर और सामंत के वहन की आवश्यकता है।

  • सामंत करेँ

    एक भूखंड सामंत में बदलाना सिर्फ दुर्ग के घेरे की मुहिम पर सैनिक भेजने द्वारा हो सकता। सामंत अन्य सम्राज्य या रियासत के निकट हो सकता है (विशेष जोन, इस से बाहर प्रदेश, उपनिवेश, सैनिक या व्यापारिक स्थान), लेकिन अन्य सामंत या स्वतंत्र नगर के निकट नहीँ हो सकता है। उन में से कम से कम 1 बिंदु दूरी होनी चाहिए।

  • सामंत की विशेष्ठताएँ
    • आबादी - उसकी बढ़ोतरी इस क्षण को रुकती हो जब रियासत समांत बदली हो और फिर शुरू होती हो जब रियासत प्रदेश के रूप में राज्य में मिली ली जाए। उसकी संख्या स्वतंत्र नगर के पैरामीटरोँ से निश्चित है।
    • सेना - राज्य में मिला लेने तक अपनी संख्या नहीं बदलती है। इकाइयोँ की संख्या स्वतंत्र नगर के पैरामीटरोँ से निश्चित है।
    • आमदनी
      • व्यापार से आमदनी: व्यापारिक रास्तोँ के स्तर पर निर्भर है। सोना राजधानी के ख़ज़ाने में जमा किया जाता है।
      • सामंत पर लगान से आमदनी: स्वतंत्र नगर के पैरामीटरोँ से निश्चित है। इसी प्रकार जमाया गया सोना स्वतः ख़ज़ाने में नहीँ भेजा जाता है, उस को स्वरचित खींचा जाना चाहिए।
    • सामंत राज्य में मिला लिये, मुक्त किये या अन्य खिलाड़ी से अधिकृत किये जा सकते हैँ।
      • सामंत राज्य में मिला लेना: यह संभव है सिर्फ जब रियासत और दूसरे राज्य में मिला लिये प्रदेश से या राजधानी से मुश्तरका सीमा है।

        नोट: शांत या सैन्य अधिकार की स्थिति में, प्रयोक्ता के निवल अंकोँ को स्वतंत्र नगर की इमारतोँ से अंक जोड़े जाते हैँ।

        सामंत सैन्य प्रकार राज्य में मिला लेंने के बाद, रियासत में इमारतेँ एक स्तर खोती हैँ, इन के अलावा:
        - घर - वे अधिकार के पहले से अपना स्तर रखते हैँ;
        - दुर्ग - अगर अधिकार के पहले उसका स्तर 1 था।

      • सामंत को स्वतंत्र करना: आप सदा सामंत प्रदेश को स्वतंत्र कर सकते हैँ। तब वह फिर स्वतंत्र नगर हो जाता है और आप उस से आमदनी खोते हैँ। सामंत होने के समय में जमे हुए संसाधन गुम हो जाते हैँ और 0 से जमाने लगते हैँ।
      • सामंत पर अधिकार जमाना - सामंत किया गया प्रदेश शत्रुओँ से लूटा नहीँ जा सकता है, लेकिन वह चुराया जा सकता है, अगर वह विशेष जोन के बाहर स्थित हो। अन्य खिलाड़ी प्रदेश पर आक्रमण कर सकता है और वह उस में तैनात सेना और दुर्ग से लड़ाई कर सकता है (वे पहले के स्वतंत्र नगर से निश्चित हैँ)। सफल आक्रमण की स्थिति में वह उसको अपने आप के लिए सामंत करता है।
      • सामंतोँ का चुकता स्तरोन्नयन

        सामंत के सक्रिय स्तर की कीमत और अगले स्तर की उनकी कीमत में अंतर संसाधनोँ में चुका करके आप के पास सामंत के स्तरोन्नयन बढ़ाने की संभावना है। ख़्याल रखिये, कि सामंत का स्तरोन्नयन उस में तैनात सेना भी बढ़ाता है। आप पर प्रतिबंद करनेवाले आक्रमण के समय में या सामंत आक्रमित होने के समय में चुकता स्तरोन्नयन मौजूद नहीँ है।

उपनिवेश

वह सार्वभौमिक नक़्शे पर अधिकतम 4 अंक लेता है। एक उपनिवेश का परिमाण उसकी आबादी का संख्या पर निर्भर है। उपनिवेश स्थापित करने के लिए उपनिवेशन के मुक्त स्तर और उपनिवेशिक वहन के कम से कम एक विकासित स्तर की आवश्यकता है। उपनिवेश मुक्त उदासीन भूखंड, बोनसोँ के भूखंड या विशेष संसाधन के भूखंड पोअर स्थापित हो सकते हैँ और अन्य खिलाड़ी के उपनिवेश, सामंत, व्यापारिक या सैनिक स्थान के निकट हो सकते हैँ। अगर भिन्न खिलाड़ी के सामंत और उपनिवेश की मुश्तर्का सीमा हो, तो सामंत का मालिक विदेशी उपनिवेश के नाश करने के पहले अपना रियासत राज्य में मिला ले नहीँ कर सकता है। अन्य प्रयोक्ता के राज्य में मिला लिये गये प्रदेश के निकट भूखंड को उपनिवेश बनाना असंभव है।

  • उपनिवेशवाद

    सिर्फ शांत प्रकार से किया गया है। इस के लिए आप को राज्य में मिला लिये गये प्रदेश से मुक्त भूखंड या विशेष संसाधन के भूखंड की ओर 50 000 आबादी और संसाधन भेजना चाहिए। निर्माण का दौरान 6 घंटे है और उसकी समाप्ति पर उपनिवेशन में निम्नलिखित इमारतेँ हैँ: फ़ार्म - स्तर 8, केंद्रिय मैदान - स्तर 1, डेपो - स्तर 1, व्यापारिक रास्ता - स्तर 1, घर - स्तर 7, दुर्ग - स्तर 4। स्थापना की कीमत सब आवश्यक इमारतोँ की कीमतोँ के जोड़ के बराबर है (वास्तुकला के स्तर 0 पर)।

    • भूखंड का उपनिवेशन - अगर उपनिवेशन के लिए क्षेत्र भिन्न भूखंड पर फैलता है, तो खिलाड़ी को उन से एक और एक परिवर्तक का चुनाव करना चाहिए, अगर उस क्षेत्र पर प्रभाव वालनेवाला परिवर्तक एक से ज़्यादा हो। उपनिवेश दो अप्रतिम बोनस भी प्राप्त करता है: राज्यपाल की दो निपूणताओँ की 50% बढ़ोतरी।
    • विशेष संसाधन के भूखंड का उपनिवेशन - ऐसी भूखंड पर उपनिवेशन मुक्त भूखंड पर उपनिवेशन जैसी प्रकार से किया जाता है। अंतर यह है, कि भूखंड की विधि से बोनस और परिवर्तक और राज्यपाल की दोनोँ निपूणताओँ से बोनस के साथ, उपनिवेश भी विशेष संसाधन से सारे ज़म्राज्य पर असर डालनेवाला बोनस देता है। विशेष संसाधन पर उपनिवेश निवल अंकोँ के क्षेत्र के कोई प्रतिबंध के बिना आक्रमित हो सकता है, जिसका मतलब है कि आक्रमणकारी के हौसले, पुरुषार्थ और आक्रमण पर कोई डंड नहीँ होगा।
  • उपनिवेशोँ की विशेष्ठताएँ

    उनकी स्थिति राज्य में मिले लिये गये प्रदेशोँ की बराबर है - उन में इमारतोँ का निर्माण हो सकता है, सेना की नियुक्ति हो सकती है और संसाधन की उत्पादन और वहन हो सकते हैँ।

    • उपनिवेश का नाश करेँ
    • विरोधी आक्रमण की स्थिति मेँ - एक उपनिवेश तब विनष्ट हो, जब उसके पास दुर्ग अभी नहीँ हो। दुर्ग का हर सफल घेरा दुर्ग का एक स्तर घटा देता है। जब दुर्ग का स्तर 0 हो, तो वह नक़्शे से गुप्त हो। आबादी का आधा और उपनिवेश में तैनात सेना के 90% स्थापना के प्रदेश/उपनिवेश में वापस जाते हैँ। मालिक उस में जमाया गया संसाधन, दिये गये संसाधनोँ के लिए निवल अंक और सुख के 10 अंक खोता है। अगर सम्राज्य से उपनिवेश की ओर सेना यात्रा करनेदाली है, तो यह सेना सम्राज्य की राजधानी में वापस जाती है। अगर उपनिवेश विनष्ट हो जब उस से भेजी गयी सैन्य मुहिम होनेवाली है, तो यह सेना सम्राज्य की राजधानी में वापस जाती है। रक्षा में हर हार सरे बाकी गैरिज़न को मैदान में तैनात करता है। विशेष संसाधन पर उपनिवेशोँ पर आक्रमण क्षेत्र के कोई प्रतिबंध के बिना हैँ और आक्रमणकारी के हौसले, पुरुषार्थ और आक्रमण पर कोई डंड नहीँ होगा।
    • मालिक के मनमाने - ओपनिवेश का नाश करेँ के विकल्प का चुनाव करके आप अपने उपनिवेश का नाश कर सकते हैँ। नाश उपनिवेश की आबादी के 50% उपनिवेश की स्थापना के प्रदेश या उपनिवेश में वापस भेजता है। आप उपनिवेश में जमाये गये संसाधन खोएंगे और उस के निर्माण और विकास के लिए दिये गये संसाधनों से निवल अंक आप भी खोएँगे। अक उपनिवेश अपने मालिक से विनष्ट नहीँ हो सकता हो, अगर उस में सेना तैनात हो या अगर उस से या उसकी ओर यात्रा करनेवाली मुहिम हो।
    • स्वतः नाश - एक खिलाड़ी अपना उपनिवेश खो सकता है, अगर उसका खाता खेल के व्यवस्थापकोँ से 7 दिनोँ से ज़्यादा के लिए ब्लॉक हो जाए या अगर वह 16 दिनोँ से ज़्यादा के लिए अवकाश के ढंग में रहे। आबादी के 50% और तैनात सेना के 90% उपनिवेश की स्थापना के प्रदेश या उपनिवेश में वापस जाते हैँ। मालिक उस के लिए दिये गये संसाधनों से निवल अंक खोता है। सब मौजूद संसाधन राजधानी में खिसकाये जाते हैँ। उपनिवेश के स्वत: नाश की स्थिति में आप सुख के अंक नहीँ खोत हैँ।

      नोट: सिर्फ विशिष्ट संसाधन पर स्थापित उपनिवेश का नाश स्वतः हो सकता है।

    • अटूट उपनिवेश

      अगर दुर्ग के 8 स्तर के निर्माण करने के बाद आप अपने उपनिवेश को 3 दिनोँ के दौरान रखेँ, तो वह अटूट हो जा सके। इस अवधि के बाद उपनिवेश राज्य में मिले गये प्रदेश की स्थिति पाए। बाक़ी देशोँ से मुश्तरका सीमा की कोई आवश्यकता नहीँ है। अगर इस में व्यापारिक रास्ता हो, तो वह सम्राज्य का रास्ता हो जाए, जब उपनिवेश के पास प्रदेशोँ में से एक से मुश्तरका सीमा है। अगर अटूट उपनिवेश का दुर्ग विनष्ट हो, तो वह एक स्तर नहीँ खोए। संसाधनोँ की आवश्यक संख्या द्वारा रक्षक उसकी मरम्मत कर सकता है।

      नोट: अटूट उपनिवेश भी मालिक से विनष्ट हो सकते हैँ।

    • सुख

      राज्य में मिले लिये प्रदेशोँ के प्रकार परिगणित हो जाता है, लेकिन यहाँ दूरी का अधिक परिवर्तक मौजूद है - वह राजधानी से जितने ज़्यादा दूर हो, उसके सुख पर इतना बड़ा डंड लगाया जाता है। परिवर्तक निम्नलिखित सूत्र के अनुसार परिगणित हो जाता है: 0,00025 * दूरी * दूरी - 0,23 * दूरी -13

      उदाहरण:

      जब दूरी 400 से ज़्यादा हो, तो हानि सदा -65 हो।

      सूख की हद 100 है। विशिष्ट संसाधन रेशम के भूखंड उपनिवेशित करके आप उस को 10 अंकोँ से बढ़ा दे सकते हैँ। अगर सुख 50 से कम हो तो विद्रोह की संभावना हो जो हर सुख के अंक पर 2% से बढ़नेवाली हो। कर कम से कम 24 घंटोँ के लिए सुख की बढ़ोतरी तक जमा नहीँ होगा। अगर सुख 20 से कम हो तो विप्लव की संभावना हो जो हर सुख के अंक पर 2% से बढ़नेवाली हो। सुख के पुनः 20 से ज़्यादा होने तक विप्लव कम से कम 24 घंटोँ के लिए उपनिवेश की ऐक्सेस् को बंद कर सकता है। इस अवधि के दौरान सुख को बढ़ा देने के लिए सिर्फ मेले का आयोजन मौजूद है।

    • संग्रहणीयता

      पहले स्थापित उपनिवे] की संग्रहणीयता 90% है और हर अगला उपनिवेश पहले की तुलना में 10% से ज़्यादा अप्रभावी है। इस प्रतिशत को सम्राज्य से दूरी के कारण सुख की हानि के आधा जोड़ा जाता है। अध्ययन उपनिवेश की नौकरशाही उत्पादन की संग्रहणीयता 5% से बढ़ाता है, 100% से ज़्यादा होने के बिना। अध्ययन उपनिवेश की नौकरशाही के विकासित स्तरोँ के बिना दसवेँ उपनिवेश की मूल्य संग्रहणीयता होगी और हर अगला प्रदेश पहले की तुलना में 10% से ज़्यादा अप्रभावी है (मूल्य अभावात्मक होगी)।

      उदाहरण: अगर प्रयोक्ता पर उसके पहले उपनिवेश के लिए С1 -14 दूरी का डंड लगाया गया है, तो उसकी संग्रहनीयता निम्नलिखित प्रकार से परिगणित होगी: 100% - 10% -14/2 = 83% (उपनिवेश की नौकरशाही के असर के बिना)। अगर इस अध्ययन का एक स्तर विकासित है, तो संग्रहनीयता 5% से बढ़ी जाएगी और 8% हो जाएगी।

    • उपनिवेश की कर-प्रणाली

      उपनिवेशोँ की कर-प्रणाली राज्य में मिला लिये प्रदेशोँ की बराबर है।

    • संसाधनों का वहन

      डेपो में किया जाता है और राज्य में मिले लिये प्रदेशोँ में वहन जैसा है।

      • व्यापारिक रास्ता- एक इमारत जो उपनिवेश और व्यापारिक स्थानोँ में निर्मित हो जाती है। राज्य में मिले लिये प्रदेशोँ के बीच सम्राज्य के रास्ते की भूमिका खेलते हैं। हर स्तर पर खिलाड़ी कम आबादी के उपनिवेश की अंतःशक्ति से अधिक 10% का प्रयोग कर सकेगा।
    • सेना की यात्रा

      प्रदेश और उपनिवेश के बीच यात्रा का समय राज्य में मिले लिये प्रदेशोँ के बीच समय जैसा है - सब से लघु पथ लिया जाता है।

व्यापारिक स्थान

सार्वभौमिक नक़्शे पर एक बिंदु पर स्थित है और सिर्फ विशेष जोन के बाहर विशेष संसाधन के भूखंड पर स्थापित हो सकता है। वह दूसरे खिलाड़ी के व्यापारिक स्थान, उपनिवेश, सैनिक स्थान या सामंत के निकट हो सकता है। दूसरे खिलाड़ी के सम्राज्य (राजधानी या राज्य में मिला लिया प्रदेश) से उसकी मुश्तरका सीमा नहीँ हो सकती है। विशिष्ट संसाधन सारे सम्राज्य पर असर डालता है। यह इमारत व्यापारिक रास्ते के विकास के अनुसार व्यापारिक अंतःशक्ति से ऊपर का सोना देती है। सार्वभौमिक नक़्शे पर एक बिंदु पर स्थित होते हुए यह भूखंड सिर्फ एक बोनस या परिवर्तक देता है।

  • व्यापारिक स्थान की स्थापना करेँ

    व्यापारिक स्थान की स्थापना करने के लिए व्यापारिक प्रशासन और व्यापारिक वहन के अन्वेषित स्तर आवश्यक हैँ। व्यापारिक प्रशासन का हर स्तर एक व्यापारिक स्थान की स्थापना करने देता है। व्यापारिक वहन का पहला स्तर सम्राज्य से इस दूरी 5 बिंदुओँ से बढ़ाता है, जिस पर व्यापारिक स्थान स्थापित हो सकता है। हर अगला स्तर पहले से 8% से ज़्यादा लाभदायक है। एक व्यापारिक स्थान की स्थापना की कीमत वास्तुकला के 0 स्तर पर उस मेँ इमारतोँ की कीमतोँ के जोड़ म्के बराबर है।

    • दुर्ग - स्तर 3
    • व्यापारिक रास्ता - स्तर 1
    • डेपो - स्तर 1

      वह ड्रॉप डाउन सूची के बटन से निर्मित हो जाता है, सार्वभौमिक नक़्शे के भूखंड पर माउस से क्लिक करके। मुहिम इकपहिये ठेलोँ की रफ़्तार से यात्रा करनेवाली है। निर्माण का दौरान 1.5 घंटे है और इस अवधि के दौरान आक्रमण असंभव हैँ। व्यापारिक स्थान की स्थापना सारे सम्राज्य को सुख के 10 अंकोँ का एक बार बोनस देती है।

      • व्यापारिक स्थान की विशेष्ठताएँ
        • इमारतेँ

          व्यापारिक स्थान के नगर के केंद्र में मौजूद इमारतेँ जो खिलाड़ी विकासित कर सकता है व्यापारिक रास्ते और डेपो हैँ। दुर्ग का स्तरोन्नयन नहीँ हो सकता है, उसका अध9इकतम स्तर 3 है। ’सैन्य’ टैब में दुर्ग के स्तर के निर्माण करने का बटन मौजूद होगा, अगर वह विरोधी आक्रमण में विनष्ट हो। बुर्ज के स्तर 1 और दुर्ग के भंडार का निर्माण भी मौजूद होगा।

      • संसाधनोँ का वहन

        डेपो में किया जाता है और राज्य में मिले लिये प्रदेशोँ में वहन जैसा है।

        • व्यापारिक रास्ता - एक इमारत जो उपनिवेशोँ और व्यापारिक स्थानोँ में निर्मित हो जाती है। राज्य में मिले लिये प्रदेशोँ के बीच सम्राज्य के रास्ते की भूमिक खेलेते हैं और हर स्तर पर राजधानी तक वहन के समय को 5% से घटा देता है। हर स्तर पर खिलाड़ी कम आबादी की रियासत के अंतःशक्ति से 10% का प्रयोग कर सकेगा।
      • सेना और रक्षा

        व्यापारिक स्थान में सेना तैनात नहीँ हो सकती है। विरोधी आक्रमण की स्थिति में रियासत दुर्ग और बुर्जोँ पर निर्भर है। इस के बावजूद, सैनिक स्थान की स्तापना करके आप रियासत को अतिरिक्त रूप से सुरक्षित कर सकते हैँ। इसी प्रकार अगर आक्रमणकारी व्यापारिक स्थान को आक्रमण भेजना चाहता है, तो उसको सब से पहले सैनिक स्थान का नाश करना होगा।

      • व्यापारिक अंतःशक्ति

        व्यापारिक स्थान में कोई आबादी नहीँ हैँ औत अंतःशक्ति इस विशिष्ट संसाधन से निश्चित है, जिस पर वह निर्मित है। आप विभिन्न भूखंड की व्यापारिक अंतःशक्ति की संख्या सार्वभौमिक नक़्शा => भूखंड की विधियाँ => विशिष्ट संसाधन में देख सकते हैँ। व्यापारिक अंतःशक्ति निराकार मान है, जो एक रियासत अधिक सोने प्राप्त करने की संभावना निश्चित करता है। यह सोना स्वत: ख़ज़ाने में जमाया जाता है। उत्पन्न गया सोना व्यापारिक स्थान की व्यापारिक अंतःशक्ति और राजधानी की व्यापारिक अंतःशक्ति के अनुपात के आधार पर परिगणित है। दोनोँ रियासतोँ में से कम आबादी की रियासत (कम व्यापारिक अंतःशक्ति से) क्या है निश्चित हो जाता है। व्यापारिक रास्ते की इमारत के स्तरोन्नयन की स्थिति में प्रयोक्ता कम आबादी की रियासत की व्यापारिक अंतःशक्ति से 10% प्राप्त करता है।

      • नाश करेँ

        व्यापारिक स्थान अपने मालिक से या उसके शत्रु से विनष्ट हो सकता है।

        • विरोधी आक्रमण की स्थिति में

          व्यापारिक स्थान के दुर्ग का सफल घेरा दुर्ग के एक स्तर का नाश करता है। जब वह 0 हो, रियासत विनष्ट हो और प्रयोक्ता दुर्ग में जमाया गया संसाधन, स्थापना और विकास से प्राप्त निवल अंक, व्यापारिक रास्ते के स्तरोँ से व्यापरिक अंतःशक्ति और भूखंड के विशेष संसाधन से बोनस खोता है। सब रियासतोँ में एक बार सुख के 5 संक खोये जाते हैँ।
          विशेष संसाधन पर उपनिवेशोँ पर आक्रमण क्षेत्र के कोई प्रतिबंध के बिना हैँ और आक्रमणकारी के हौसले, पुरुषार्थ और आक्रमण पर कोई डंड नहीँ होगा।

        • मालिक के मन से

          विकल्प सार्वभौमिक नक़्शे में रियासत पर क्लिक द्वारा मौजूद है। व्यापारिक स्थान के नाश की स्थिति में प्रयोक्ता दुर्ग में जमाया गया संसाधन, स्थापना और विकास से प्राप्त निवल अंक, व्यापारिक रास्ते के स्तरोँ से व्यापरिक अंतःशक्ति और भूखंड के विशेष संसाधन से बोनस खोता है।

        • स्वतः नाश करेँ

          आप अपना व्यापारिक स्थान स्वत: खो सकते हैँ। ये निम्नलिखित स्थितिओँ मेँ संभाव है:

          • खाता 16 दिनोँ से ज़्यादा के दौरान अवकाश के ढंग में है।
          • खाता 7 दिनोँ से ज़्यादा के दौरान ब्लॉक किया गया है।

          स्वतः नाश की स्थिति में प्रयोक्ता विशिष्ट संसाधन का बोनस, निर्माण से निवल अंक और उसका विकास खोता है। जमा किये गये संसाधन राजधानी में भेजे जाते हैँ।

सैनिक स्थान

सार्वभौमिक नक़्शे परएक बिंदु पर स्थित है और सर्वत्र स्थापित हो सकता है, स्वतंत्र नगरोँ और विशेष संसाधन के भूखंड के बावजूद। उसका मुख्य कार्य व्यापारिक स्थानोँ को सुरक्षित करना है, क्योँकि उन में रक्षक सेना तैनात नहीँ हो सकती है। इस लक्ष्य के लिए, सैनिक स्थान को व्यापारिक स्थान से मुश्तरका सीमा आवश्यक है। ताकि शत्रु को सब से पहले सैनिक स्थान का नाश करना चाहिए और सिर्फ इसके बाद वह व्यापारिक स्थान पर आक्रमण कर सकेगा। आप अन्य रियासतोँ के निकट भी सैनिक स्थानोँ का निर्माण कर सकते हैँ, लेकिन वे रक्षक असर सिर्फ व्यापारिक स्थान पर डालेँगे।

  • सैनिक स्थान की स्थापना

    केंद्रीय सत्ता का स्तर 5 और सैनिक प्रशासन और सैनिक वहन कम से कम स्तर 1 आवश्यक हैँ। सैनिक प्रशासन का हर अगला स्तर एक और सैनिक स्थान की स्थापना करने देता है। सैनिक वहन का पहला स्तर सम्राज्य से दूरी, जिस पर सैनिक स्थान स्थापित हो सकता है, 5 बिंदुओँ से बढ़ाता है। कीमत वास्तुकला के स्तर 0 के आधार पर उस में इमारतोँ की कीमतेँ के जोड़ का बराबर है।

    • दुर्ग स्तर 4
    • डेपो स्तर 1
    • लशकर स्तर 1

      लशकर का हर स्तर 120 000 मैदानी सेना की तैनाती करने देता है।

    सार्वभौमिक नक़्शे पर निश्चित भूखंड पर क्लिक द्वारा मौजूद बटन से स्थापित हो जाता है। अगर निश्चित भूखंड सैनिक बोनस या परिवर्तक से सैनिक बोनस देता है, तो रियासत सिर्फ़ इस बोनस से प्रभावित है। कोई भी आर्थिक बोनस असर नहीँ डालेगा। निर्माण का दैरान 1.5 घंटे है और इस अवधि के दौरान रियासत पर आक्रमण बंद हैँ। स्थापना की मुहिम इकपहिये ठेलोँ की रफ़्तार से चलती है।

  • सैनिक स्थान की विशेष्ठताएँ
    • इमारतेँ

      निर्माण की समाप्ति पर रियासत दुर्ग, डेपो और लशकर के प्रारंभिक स्तर प्राप्त करती है और उसका स्तरोन्नयन कर सकती है। सैनिक टैब में सब रक्षक सुविधाएँ निर्मित हो सकती है। इन में से सेतु भी शामिल है - इस रियासत के लिए विशेष सुविधा। उसका हर स्तर मैदानी सेना की रक्षा को 2% बोनस देता है। सैनिक स्थान में आबादी, उत्पादन अय्र संग्रहणीयता नहीँ हैँ।

    • वहन

      डेपो में किया जाता है और राज्य में मिले लिये प्रदेशोँ में वहन जैसा है।

    • सेना और सेना की यात्रा

      रियासत में तैनात सेना की संख्या सीमित है और लशकर के स्तर पर निर्भर है। सैन्य स्थान से/की ओर इकाइयोँ का परिवहन मुक़र्रर है: 90 और वह हीरोँ द्वारा क्षणिक रूप से नहीँ हो जा सकता है। अगर सैनिक स्थान की हद मिली गयी हो, तो आगमन पर आनेवाली सेना तैनात नहीं, लेकिन वह स्वतः अपने भेजने की रियासत में वापस जाए। अगर सैनिक स्थान में बाकी रिक्त स्थान होँ, लेकिन वे सारी सेना के लिए काफ़ी नहीँ होँ, तो स्थान हद तक भरा हो और बाकी इकाइयाँ अपने भेजने की रियासत में वापस जाएँ। अगर आगमण पर सेना विनष्ट सैनिक स्थान तक पहुँचे, तो वह अपने भेजने की रियासत में वापस जाए। मैदानी सेना की परवरिश सैनिक स्थान में х1,2 है।

    • रक्षा

      नियंत्रक केंद्र मेँ रक्षक सेना के हटाव का विकल्प है। अगर खिलाड़ी इसका प्रयोग करे तो सेना नही लड़े। यह विकल्प सिर्फ सैनिक स्थान में मौजूद है।

    • नाश करेँ
      • विरोधी आक्रमण की स्थिति मेँ

        सैनिक स्थान के दुर्ग का सफल घेरा दुर्ग के एक स्तर का नाश करता है। जब वह 0 हो, रियासत विनष्ट हो और प्रयोक्ता दुर्ग में जमाया गया संसाधन व स्थापना और विकास से प्राप्त निवल अंक खोता है। अगर सैनिक स्थान के नाश के क्षण में उस में कोई बाकी तैनात सेना हो, तो खिलाड़ी जीवित रहनेवाले सैनिकोँ से 10% खोता है। बाकी सैनिक स्थापना की रियासत में वापस जाते हैँ। अगर यह रियासत भी वनिष्ट हो, तो सेना राजधानी में वापस जानेवाली हो। अगर सैनिक स्थान विनष्ट हो, जब उस से भेजी गयी सैन्य मुहिम जानेवाली हो, तो यह मुहिम सम्राज्य के राजधानी में वापस जाएगी।
        व्यापारिक स्थान की रक्षा करनेवाले सैनिक्म स्थान पर आक्रमण क्षेत्र के कोई प्रतिबंध के बिना हैँ और आक्रमणकारी के हौसले, पुरुषार्थ और आक्रमण पर कोई डंड नहीँ होगा।

      • मालिक के मन से

        यह विकल्प सार्वभौमिक नक़्शे की ड्रॉप डाउन सूची में स्थित है, जो रियासत पर क्लिक द्वारा खोली जाती है। सैनिक स्थान विनष्ट नहीँ हो सकती है, अगर उस में इकाइयाँ तैनात है या यात्रा करनेवाली सैन्य या जासूसी मुहिम है। नाश की स्थिति में प्रयोक्ता सैनिक स्थान के दुर्ग में जमाया गया संसाधन व स्थापना और विकास से प्राप्त निवल अंक खोता है।